खूबसूरती के जाल में फंसा ऐंठे करोड़ों, ब्लैकमेलिंग में मददगार थी ये लड़की

accused-girlfriend-arrested-in-blackmailing-case

जयपुर. शहर के हाईप्रोफाइल ब्लैकमेलिंग मामले में मुंबई के बाद अजमेर से एक और लड़की को गिरफ्तार किया गया है। ये गैंग पैसे वाले लोगों से गैंग की लड़कियों की दोस्ती कराने के बाद उन्हें हुस्न के जाल में फंसाते थे। फिर उन्हें रेप के मामले में फंसाने की धमकी देकर करोड़ो रुपए एेंठते थे। ब्लैकमेलिंग के इस काम में मंगलवार को गिरफ्तार की गई लड़की गैंग के लिए गवाह, बयान, रिपोर्ट दर्ज कराने और लोगों को फंसाने में अहम रोल निभाती थी।
– स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) की शुरुआती जांच में सामने आया कि आरोपी 22 साल की आकांक्षा गैंग में शामिल आरोपी अक्षत की गर्लफ्रैंड थी। दोनों का 2012 में कॉन्टेक्ट हुआ था।
– आकांक्षा नौकरी की तलाश में जयपुर आई थी। इसके बाद अक्षत ने उसे अपने गैंग में शामिल कर लोगों को ब्लैकमेल करने में उसकी मदद लेने लग गया। अक्षत ने आकांक्षा को ब्लैकमेलिंग के रुपयों से एक फ्लैट और कार गिफ्ट की थी। अक्षत के पकड़े जाने के बाद वह वापस अजमेर चली गई। जहां से उसे अरेस्ट किया गया।
ऐसे फंसाते थे पैसे वाले लोगों को हुस्न के जाल में
– जयपुर के डाॅ. सुनीत सोनी की डेंटिस्ट पत्नी के पास इलाज कराने गए अक्षत ने देखा कि डॉक्टर पति-पत्नी के पास काफी पैसे हैं। उसने साजिश के तहत डीजे शिखा तिवाड़ी को ब्लैकमेलिंग करने के लिए तैयार किया।
– अप्रैल 2016 में ब्रह्मपुरी इलाके की रहने वाली शिखा डॉक्टर के क्लीनिक पर हेयर ट्रांसप्लांट के लिए गई। इस दौरान दोनों का कॉन्टेक्ट हुआ था।
– एक दिन शिखा डाॅक्टर को झांसे में लेकर पुष्कर ले गई और वहां पर दाेनों एक रिसोर्ट में रुके। जहां से शिखा को छोड़कर सुनीत वापस जयपुर आ गया था, लेकिन शिखा ने सुनीत को तबीयत खराब होने की बात कहकर पुष्कर बुला लिया था।
– इसके दो दिन बाद आरोपी गैंग के मैंबर अक्षत और विजय ने मीडियाकर्मी बनकर सुनीत को फोन किया और शिखा द्वारा रेप का केस दर्ज कराने की धमकी देते हुए दो करोड़ रुपए की मांग की।
– जब उसने पैसे देने से इंकार कर दिया तो साजिश के तहत लड़की ने पुष्कर थाने में उसके खिलाफ रेप का केस दर्ज करा दिया। पुलिस ने जांच के बाद डॉ. सुनीत को अरेस्ट कर जेल भेज दिया था।
– वह 75 दिन तक जेल में रहा। इस दौरान सुनीत ने गैंग के लोगों कॉन्टेक्ट किया। आरोपियों ने कोर्ट में लड़की के बयान बदलवाने डेढ़ करोड़ रुपए की डिमांड की। बाद में सौदा 1.05 करोड़ रुपए में तय हुआ। पैसे लेने के बाद आरोपियों ने लड़की के बयान बदलवा दिए।
– मुंबई से पकड़ी गई शिखा को आकांक्षा ही डॉक्टर सुनीत सोनी के पास छोड़कर आई थी और गवाह भी बनी थी। SOG दाेनों को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ कर रही है।
शिखा को इस काम के मिले थे 10 लाख रुपए
– SOG के आईजी दिनेश एमएन ने बताया कि गैंग में आकांक्षा का भी नाम सामने आने के बाद पकड़कर पूछताछ की तो उसने अक्षत के साथ मिलकर लोगों को ब्लैकमेल करके करोड़ों रुपए हड़पने की बात कबूल कर ली।
– गैंग में शामिल आरोपियों ने शिखा को सुनीत सोनी को ब्लैकमेल करने के लिए पहले 10 लाख रु. दिए थे, लेकिन 5 लाख रुपए अक्षत ने वापस ले लिए थे।
– बता दें कि गैंग ने डॉक्टर से 1.05 करोड़ रुपए ऐंठे थे। इसमें से 50 लाख रुपए सेटलमेंट कराने के लिए प्रेम और राकेश ने लिए थे। जबकि, 55 लाख रुपए अक्षत, विजय, नवीन, नीतेश बंधू ने आपस में बांटे थे। आरोपियों ने इस काम के लिए शिखा को 5 लाख रुपए दिए थे। मामले में फरार वकील संदीप गुप्ता के अलावा अब तक सभी आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

 

The post खूबसूरती के जाल में फंसा ऐंठे करोड़ों, ब्लैकमेलिंग में मददगार थी ये लड़की appeared first on MastiWale.

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s